एडन – ईरानी समर्थित हुती विद्रोही आये दिन कोई नया कारनामा करते नज़र आते है. संयुक्त राष्ट्र राहत एजेंसियों द्वारा भेजे गए यमन को मानवीय सहायता लूट रहे हैं.

मेनी सूचना मंत्री मुअमर अल-इरयानी ने कहा कि सरकार को सना और विद्रोहियों द्वारा नियंत्रित क्षेत्रों से पुष्टि की गई जानकारी मिली है कि हुती अब यमन के लोगों को परेशान करते नज़र आ रहे है. यमन की बदहाली देख जब यूनाइटेड नेशन ने यमन के कुछ ईलाकों में सहायता सामग्री भी तो बीच रास्ते में हौथियों ने उन्हें लूट लिया.

सऊदी गेजेट के मुताबिक,  हुती विद्रोहियों ने मानवतावादी सहायता प्राप्त करने और इसे स्थानीय बाजार में बेचने के लिए नकली संस्थानों और संघों की स्थापना भी की है.

यमन में स्थानीय प्रशासन मंत्री और उच्च समिति के अध्यक्ष यमन अब्दुल रकीब फतेह ने आईबीबी गवर्नर में गुर्दों की बिमारी से ग्रस्त मरीजों के लिए राहत सहायता और चिकित्सा आपूर्ति को रोकने के लिए और हुतियों द्वारा लगातार सामन जब्त करने  की निंदा की. उन्होंने कहा कि हुती विद्रोही ने राहत और मानवीय कार्य में हस्तक्षेप किया है.

अरब नामा को मिली जानकारी के मुताबिक, राहत सहायता के हकदार लोगों के नामों में छेड़छाड़ की, युद्ध के प्रयासों के लिए राहत सहायता का उपयोग करके और उन्हें काले बाजार पर बेच दिया.

अब्दुल रकीब ने आधिकारिक यमनी समाचार एजेंसी द्वारा प्रसारित एक बयान में कहा कि ये आपराधिक कृत्यों अंतरराष्ट्रीय कानूनों का उल्लंघन कर रहे हैं. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र संगठनों को इन गतिविधियों पर अपनी चुप्पी तोड़ने के लिए कहा. साथ ही यह भी कहा कि हुतियों के खिलाफ शख्त से शख्त कार्यवाही की जाए.