कुछ दिन पहले ही यह ख़बर सामने आई थी कि दुनिया के सबसे अमीर और प्रभावशाली शासकों में से एक संयुक्त अरब इमीरात (यूएई) के उप राष्ट्रपति और दुबई के शासक शेख़ मोहम्मद बिन राशिद अल-मख़तूम की पत्नी राजकुमारी हया अल-हुसैन अपनी हत्या के डर से अपने बच्चों सहित जर्मनी चली गईं हैं।

यूरोपीय मीडिया की रिपोर्टों के मुताबिक़, दुबई के शासक की पत्नी राजकुमारी हया अल-हुसैन जो जॉर्डन के किंग अब्दुल्लाह दितीय की सौतेली बहन भी हैं, एक जर्मन कूटनीतिज्ञ की मदद से दुबई से भाग कर पहले वह जर्मनी पहुंची हैं जहां उन्होंने अपने पति से तलाक़ के लिए अपील के साथ जर्मनी में राजनीतिक शरण की अनुमति मांगी है।

हालांकि अभी दुबई या जर्मनी के अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि दुबई के शासक की पत्नी अपने बच्चों सहित जर्मनी स्थानांतरित हुई हैं, लेकिन ख़बरें हैं कि वह पिछले एक महीने से जर्मनी में हैं। इससे पहले यह भी रिपोर्ट थी कि प्रारंभिक तौर पर राजकुमारी हया ब्रिटेन स्थानांतरित होना चाहती थीं, लेकिन उन्हें ब्रिटिश सरकार पर संदेह था इसलिए वह जर्मनी स्थानांतरित हुई हैं।

सूत्रों के अनुसार, दुबई के शासक शेख़ मोहम्मद बिन राशिद अल-मख़तूम की पत्नी 45 वर्षीय राजकुमारी हया अल-हुसैन अपने साथ 3 करोड़ 90 लाख डॉलर और अपने दो बच्चों 7 वर्षीय बेटे ज़ायद और 11 वर्षीय बेटी अल-जलीला को लेकर जर्मनी गई हैं। रिपोर्टों में यह भी दावा किया गया है कि राजकुमारी हया को उनके पति द्वारा धोखेबाज़ और बेवफ़ा कहे जाने और ख़ुद की जान का ख़तरा होने की वजह से जर्मनी भाग गई हैं। इन सबके बीच अब ख़बर सामने आई है कि राजकुमारी हया के दुबई से भागने का मूल कारण कुछ और है।