यूएई में इस्लाम की निंदा सख्ती से अवैध है, क्योंकि हाल ही में देश में स्थित तीन प्रवासियों को पता चला है, जिन्होंने इस्लाम की तौहीन की है।

खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, दुबई में स्थानीय रिसॉर्ट में सुरक्षा गार्ड के रूप में काम करने वाले तीन प्रवासी है।


अभियोजन पक्ष ने बचाव पक्ष पर “धर्म की अवमानना” का आ’रोप लगाया, सबूतों की पुष्टि के बाद उन्होंने इंस्टाग्राम और फेसबुक दोनों पर धर्म के खि’लाफ आ’पत्तिज’नक पोस्ट किए।

दुबई कोर्ट ऑफ़ फ़र्स्ट इंस्टेंस ने उन्हें देश के भे’दभाव विरो’धी और घृणा कानून और संघीय दंड संहिता के तहत आज़माया। UAE सरकार ने हर एक प्रवासी पर 500,000 दिरहम (136,000 डॉलर) का जुर्माना लगाया गया और राशियों का भुगतान करने के बाद निर्वासित होने के लिए तैयार हैं।