ABU DHABI: यूएई के एक अधिकारी ने शनिवार को तुर्की से अरब मामलों में दखल देना बंद करने का आग्रह किया। संयुक्त अरब अमीरात ने तुर्की से अरब देशों के मामलों में दख़ल अंदाजी करने से बाज़ रहने का आह्वान किया है। रॉयटर्स की रिपार्ट के मुताबिक़, यूएई के विदेश मंत्री ने शनिवार को लीबिया के हवाले से तुर्की के रक्षा मंत्री के बयान की आ’लोच’ना की है।

अरब न्यूज़ की रिपार्ट के मुताबिक़, तुर्की मीडिया ने रक्षा मंत्री के एक बयान को लीबिया के मुद्दे पर यूएई के आचरण की आ’लोच’ना करते हुए प्रसारित किया था। वहीं पलटवार में UAE ने कहा कि एर्दोगान को यह समझना चाहये की ख़िलाफ़ते उस्मानिया को ख’त्म किये हुए सदियां गुज़र गईं है।

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि संयुक्त अरब अमीरात, मिस्र और रूस पूर्वी लीबिया में कमांडर खलीफा हफ्तार के समर्थक हैं, जिनके लड़ाके अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त लीबिया सरकार की सेनाओं से लड़ रहे हैं।