SOURCE-KHALEEJ TIMES

ईमानदारी और जेल की शर्तों का पालन करने वाले कैदियों को अमीरात में धार्मिक और राष्ट्रीय त्यौहारों के अवसरों पर माफ़ किया जाता है और उन्हें रिहा कर दिया जाता है.

संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति शेख खलीफा बिन जायेद अल नहयान ने पवित्र महीने रमजान की शुरुआत से पहले अमीरात में नौ सौ से अधिक कैदियों की रिहाई के आदेश दिए हैं, इन सभी कैदियों को रमजान से पहले रिहा कर दिया जाएगा ताकि यह सभी कैदी रमजान के पवित्र महीने में सकुशल अपने परिवार के साथ रह सके.

खलीज टाइम्स के अनुसार यह रिहाई अमीरात के राष्ट्रपति की इच्छा के अनुसा दी जा रही है ताकि इन कैदियों को अपने परिवार के साथ रहने का मौका मिल सके और यह रिहाई इन कैदियों को एक नया अच्छा जीवन जीने का मौका दे रही है ताकि यह जेल से रिहा होकर अपने परिवार का दुःख कम कर सके.

इस्लामिक मुल्कों में रमजान के मुबारक महीने में हर साल जेल में बंद कैदीयों की रिहाई के आदेश जारी कियें जाते हैं. जिन कैदियों का आचरण अच्छा होता हैं. उन्हें रिहा किया जाता हैं ताकि वे दोबारा एक नयी जिंदगी की शुरुआत कर सकें.

खलीज टाइम्स के अनुसार संयुक्त अरब अमीरात में कल यानी की 15 मई को मगरीब की नमाज के बाद रमजान का चाँद देखा जाएगा.