सौजन्य से- ट्विटर

इस साल जनवरी की शुरुआत में तुर्की देश ने आतंकियों का सफाया करने के लिए ऑपरेशन ओलिव का शुभारम्भ किया था. जो की तुर्की ने सीरिया के अफरीन क्षेत्र से शुरू किया था. तुर्की के इस आतंकी सफाया अभियान में कई सारे आतंकवादी मारे गए थे और कई सारे पकडे गए थे.

शुक्रवार और शनिवार को हमला 

तुर्की सेना ने शनिवार को कहा कि “तुर्की युद्धपोतों के हवाई हमलों से उत्तरी इराक में अवैध कुर्दिस्तान श्रमिक पार्टी (पीकेके) के साथ-साथ तुर्की के पूर्वी प्रांतों में ट्यूनसेली और सिर्ट के कम से कम 15 आतंकवादियों का सफाया सफलतापूर्वक किया गया.”

तुर्की सेना की ट्विटर पोस्ट पर यह कहा गया है की “यह हमले शुक्रवार और शनिवार को हुए हैं.”

सौजन्य से ट्विटर

अल अरेबिया की खबरों के अनुसार तुर्की लम्बे समय से आतंकियों के लक्ष्यों पर हवाई हमले करता आया है, जो की दूर पहाड़ों की चोटी में भी स्थित हैं.

पीकेके, जिसे संयुक्त राज्य अमेरिका, यूरोपीय संघ और तुर्की द्वारा एक आतंकवादी संगठन माना जाता है, ने तुर्की में बड़े पैमाने पर कुर्द दक्षिणपूर्व में तीन दशक की विद्रोह की लड़ाई की है जिसमें 40,000 लोग मारे गए हैं.