रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, तुर्की के राष्ट्रपति तैयप एर्दोगन ने मंगलवार को कहा कि सीरिया के इदलिब क्षेत्र में एक तथाकथित डी-एस्केलेशन ज़ोन सरकारी बलों द्वारा सैन्य हम’लों के कारण धीरे-धीरे गायब हो रहा है।

मिडिल ईस्ट मॉनिटर के मुताबिक, एर्दोगान ने यह भी कहा कि वह इदलिब की स्थिति का हल खोजने के लिए क्षेत्र के सभी पक्षों के साथ सभी आवश्यक संपर्क करेंगे, यह कहते हुए कि सीरिया सुरक्षित क्षेत्र जिसे उन्होंने यु’द्ध से भागने वाले सीरियाई लोगों की मेजबानी करने का प्रस्ताव दिया है अब एक नाम से ज्यादा कुछ नहीं है।

एर्दोगान ने आगे कहा कि, “इदिलीब धीरे-धीरे गायब हो रहा है। इदलिब एक ऐसी स्थिति में है कि यह गायब हो गया और एक तरह से अलेप्पो हो गया। इसके खिलाफ चुप रहना संभव नहीं है।

सीरिया के उत्तर-पश्चिमी कोने में इदलिब, युद्ध के आठ वर्षों के बाद भी विद्रोही हाथों में देश का एकमात्र बड़ा हिस्सा है। अगस्त की शुरुआत में एक ट्रस तीन दिनों में ढह गई, जिसके बाद रूसी समर्थित सीरियाई सेना ने एक आक्रामक और विद्रोही बलों के खिलाफ जमीन हासिल की, जिनमें से कुछ तुर्की द्वारा समर्थित हैं।