इस’राइ’ल सरकार ने बीते मंगलवार को तुर्की और साइप्रस के बीच खड़े हुए नए विवाद में साइप्रस का समर्थन करने की घोषणा की है.

तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन ने मंगलवार को कहा था कि साइप्रस विवा’द का तब तक हल नहीं हो सकता जब तक कि ये स्वीकार न किया जाए कि वहाँ दो समुदाय हैं और दो सरकारें (देश) हैं, जिनका एक समान स्तर है.


वहीं संयुक्त राष्ट्र एक लंबे समय से दो हिस्सों में बँटे साइप्रस को मिलाने की कोशिशों में लगा हुआ है.अमेरिका, यूरोपीय संघ और ब्रिटेन ने खुलकर इस बयान का विरो’ध किया है.


इ’सरा’इल के विदेश मंत्री ने साइप्रस के विदेश मंत्री से बात करके कहा है कि साइप्रस को इस’राइ’ल का पूरा समर्थन है. इसके बाद इस क्षेत्र में तुर्की और इ’सराइ’ल में एक बार फिर टकराव होने की आशंकाएं बढ़ गई हैं.

ये पहला मौक़ा नहीं है जब तुर्की और इ’सरा’इल इस तरह खुलकर आमने-सामने आए हों. इ’सरा’इल और फ़लस्तीनी क्षेत्र के बीच जंग के दौरान तुर्की ने खुलकर इस’राइ’ल के ख़िला’फ़ बयानबाजी की थी.