लाखों विश्वासियों ने जुमे की रात को तुर्की भर में मस्जिदें नमाज़ियों से भरी नज़र आई क्योंकि उन्होंने पैगंबर साहब के जन्मदिन को चिह्नित किया। एक अवसर जो दुनिया भर के मुसलमानों ने मिलाद उन नबी के रूप में मनाया गया।

पैगंबर साहब का जन्म मक्का, सऊदी अरब में 570 ईस्वी में हुआ था। दुनिया भर के मुसलमान इस्लामिक कैलेंडर के तीसरे महीने रबी अल-अव्वल के 12 वें दिन हर साल मनाया जाता है।


आज के दिन दुनियाभर के मुस्लिम नमाज़ अदा करते है और अल्लाह से अमन और चैन की दस करते है साथ ही यह भी दुआएं की जाती है कि अल्लाह हमें हमारे प्यारे नबी की बताई हुई सुन्नतों पर अमल करने की हिदायत दे।