दुनियाभर के देशोंन ने भारत सरकार द्वारा पास किये नागरिकता बिल जिसे इंटरनेशनल मीडिया में मुस्लिम सिरोधी बिल भी कहा जा रहा है। इस बिल का भारतीय मुस्लिम शांतिपूर्ण रूप से इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे है। आपको बता दें कि, इस लड़ाई में भारत अकेला नही है दुनिया के तमाम देश इसका विरो’ध कर रहे है।

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया को मिली जानकारी के मुताबिक, यूनाइटेड नेशन ने नागरिकता बिल को मुस्लिमो के ख़िलाफ़ भेदभाव करार दिया है। नागरिकता संशोधन बिल (कैब) के वि’रो’ध में उत्तर प्रदेश के कई शहरों में वि’रो’ध प्रदर्शन हो रहे हैं। अलीगढ़ और सहारनपुर जिले में तनाव की स्थिति को देखते हुए चप्पे- चप्पे पर फोर्स तैनात किया गया है। दोनों जिलों में इंटरनेट सेवाएं पूरी तरह बंद कर दी गई हैं।

इस बीच अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के छात्रों ने शुक्रवार को बिल के वि’रो’ध में शांति पूर्ण तरीके से जुलूस निकाला। छात्रों के प्रदर्शन को लेकर जिला प्रशासन को पहले ही अल्टीमेटम दिया गया था, जिसके बाद एएमयू केंपस में भारी संख्या में पीएसी और आरएएफ के साथ लोकल पुलिस के जवानों को तैनात कर दिया गया।


वहीं, सहारनपुर में जुमे की नमाज के बाद नमाज़ियों ने नागरिकता बिल के वि’रो’ध में शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन किया। उन्होंने इस नागरिकता बिल को काला बिल करार दिया। इस दौरान हजारों की संख्या में लोगों ने बिल के वि’रो’ध किया और सिटी मजिस्ट्रेट को अपना ज्ञापन सौंपा। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे एसपी सिटी ने लोगों को समझा कर माहौल शांत कराया।

हालांकि सहारनपुर में गुरुवार रात रोड जाम करने के आरोप में 250 लोगों पर केस दर्ज किया गया। वहीं, बुधवार को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में बिना अनुमति प्रदर्शन के आरोप में 500 लोगों पर केस दर्ज किया गया।।