सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुलअज़ीज़ ने एक रॉयल आदेश जारी किया जिसमें क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने एक ऐतिहासिक पुराने जेद्दाह परियोजना कॉन्ट्रैक्ट स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी. साथ की पुराने जेद्दाह के पुनर्निर्माण के लिए बजट बनाने के लिए कहा है. सूत्रों का कहना है कि पुराने जेद्दाह की कुछ इमारते इस्लामिक दौर से भी पहले की है.

अल अरेबिया के मुताबिक, यह बड़ा कदम सऊदी नेतृत्व के ढांचे के भीतर आता है, खासतौर से सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के विज़न 2030 के अंतर्गत आता है. बिन सलमान की पुराने जेद्दाह की एतिहासिक विरासत को बरकरार रखने के लिए बहुत अहम है.

ऐतिहासिक जेद्दाह परियोजना अल-उल के विकास के लिए अल-दरियाह के गेट और रॉयल कमीशन जैसे ऐतिहासिक क्षेत्रों के विकास का विस्तार भी है, इसके पर्यावरण और इसके ऐतिहासिक मूल्य को सुधारने, विकसित करने और संरक्षित करने के लिए है. साथ ही पुराने जेद्दाह को देखने अक्सर दुनिया भर से जायेरीन आते है, ऐसे में यहाँ की विरासत को संभाल कर रखना बेहद ज़रूरी है.

ऐतिहासिक ओल्ड जेद्दाह वर्तमान जेद्दाह के दिल में बसा है. सूत्रों के मुताबिक इसका अस्तित्व इस्लाम से पहले के दौर से है. पुराने जेद्दाह के इतिहास में मोड़ 26 हिजरी में खलीफा उस्मान इब्न अफ़ान के शासनकाल के दौरान आया था.