सऊदी विदेशमंत्री फ़ैसल बिन फ़रहान अस्सऊद एक दिवसीय दौरे पर गुरुवार को इस्लामाबाद पहुंचेंगे। सऊदी विदेशमंत्री अपने पाकिस्तान दौरे के दौरान इस देश के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान और विदेशमंत्री शाह महमूद क़ुरैशी से मुलाक़ात करेंगे।

सूत्र मलेशिया सम्मिट में पाकिस्तान के भाग न लेने के फ़ैसले के बाद सऊदी अरब के दौरे को बहुत ही महत्वपूर्ण क़रार दे रहे हैं।

ज्ञात रहे कि पाकिस्तान की नेश्नल एसेंबली के स्पीकर असद क़ैसर भी सऊदी अरब के दौरे पर हैं जहां उन्होंने मंगलवार को सऊदी नरेश शाह सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ से मुलाक़ात की जिसमें दोनों देशों के बीच संबंधों के विस्तार सहित महत्वपूर्ण विषयों पर विचार विमर्श किया गया।

ज्ञात रहे कि पाकिस्तान ने मलेशिया सम्मिट में भाग नहीं लिया जिसके बाद पाकिस्तानी विदेशमंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान, मुस्लिम जगत को एकट्ठा रखने के लिए इस सम्मिट में भाग नहीं ले रहा है, सऊदी अरब और संयुक्त अरब इमारात ने इस कांफ़्रेंस पर आपत्ति जताई थी क्योंकि वह कुआलालम्मुपर शिखर सम्मेलन को ओआईसी के समानान्तर ब्लाक के रूप में देख रहे हैं।

यह कांफ़्रेंस मलेशियन प्रधानमंत्री महातीर मुहम्मद की मेज़बानी में आयोजित हुई जो इस बात की खुलकर घोषणा कर चुके हैं कि ओआईसी मुस्लिम जगत के हितों की रक्षा करने में विफल हो चुकी है इसीलिए नया गठबंधन, ओआईसी का विकल्प सिद्ध हो सकता है।