पाकिस्तान की पुलिस ने बलूचिस्तान प्रांत के नुकी जिले में अवैध रूप से शिकार करने वाले सात कतरी नागरिकों को गि’रफ्ता’र किया है। गिर’फ्तार किए गए लोगों में सत्तारूढ़ अल-थानी परिवार के सदस्य शामिल हैं।

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, नकी उपायुक्त अब्दुर रज्जाक ससोली ने बताया कि गि’रफ्ता’र किए गए विदेशियों के पास लाइसेंस या अनापत्ति प्रमाणपत्र नहीं था। पिछले हफ्ते, पाकिस्तान टुडे ने बताया कि बलूचिस्तान में चार कतरों सहित 12 लोगों को ऐसे ही अ’प’राध के लिए गिरफ्तार किया गया था।

दशकों तक, नरम कूटनीति, कतर के शाही परिवारों के साथ-साथ संयुक्त अरब अमीरात और सऊदी अरब ने पाकिस्तान में हूबारा बस्टर्ड, एक शर्मीली, दुर्लभ पक्षी के आकार का शिकार किया है।

वे आमतौर पर शिकारी बाज़ पक्षी का उपयोग करके शिकार किए जाते हैं – बाज़ एक प्राचीन खेल है जो विशेष रूप से इमरती और कतरी एलाइट्स के बीच लोकप्रिय है। यूएई अपने स्वयं के पासपोर्ट इसकी तस्वीर जारी करता है और कभी-कभी ये पक्षी हवाई जहाज के केबिन में अपने मालिकों के साथ तक भी यात्रा करते हैं। इसे इनकी लोकप्रियता का अंदाजा लगाया जा सकता है।

पाकिस्तान में 2016 में हुबारा का शिकार करना गैरकानूनी हुआ, जब सुप्रीम कोर्ट ने सरकार द्वारा खाड़ी देशों के साथ आकर्षक संबंधों को आहत करने के तर्क के बाद शिकार पर प्रतिबंध लगा दिया। बता दें कि 2014 में, सऊदी राजकुमार फहद बिन सुल्तान बिन अब्दुल अज़ीज़ ने 21 दिनों के शिकार की होड़ में 2,000 से अधिक पक्षियों को मार डाला था।

सऊदी परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 


न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here