भारत के पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के फैसले का जब ऐलान किया तब से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है इतना ही नही पाकिस्तान काई देशों से मदद की दरकार भी लगा चुका है।

इसी बीच भारत के परमाणु जखीरे की सुरक्षा पर सवाल उठाते हुए अंतरराष्ट्रीय समुदाय से इस पर गंभीरता से विचार करने को कहा है। पाकिस्तान के परमाणु हथियारों के आतंकियों के हाथ लगने की आशंकाओं को लेकर अकसर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चिंताएं सुनने को मिलती हैं

वहीं आपको बता दें कि, इमरान खान ने बौखलाहट और हताशा में बचकानापन दिखाते हुए दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत के परमाणु जखीरे की सुरक्षा पर सवाल उठाया है एयर दुनिया से भारत के परमाणु हथियार पर नज़र रखने की बात कही है।

इन दिनों पीएम इमरान खान देश की बदहाल अर्थव्यवस्था की चिंता करने की जगह से भारत सरकार के खिलाफ भड़काऊ बयान देने में कुछ ज़्यादा ही व्यस्त है।

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदुओं, ईसाइयों की बदहाली किसी से छिपी नहीं है लेकिन घर संभालने के बजाय इमरान खान भारत के खिलाफ जहर उगलने और दुष्प्रचार में मशगूल हैं। अपने गैर-जिम्मेदाराना बयानबाजी को जारी रखते हुए उन्होंने यह तक कह डाला कि भारत एक कट्टर हिंदू विचारधारा और नेतृत्व के कब्जे में है।