इजरा’यल फिलिस्तीन के लोगों के खिला’फ जो क्रू’रता करता है, यही वजह है कि मालदीव ने इजरा’यल के साथ सभी तरह के संबंधों को नि’लंबित करने का फैसला किया है, जिसमें सभी इजरा’यली उत्पादों पर प्रति’बंध भी शामिल है।

राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने स्पष्ट रूप से कहा कि मालदीव पिछले सप्ताह ट्विटर के माध्यम से फिलिस्तीन के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है।

मोहम्मद मब्रोक अज़ीज़ के अनुसार, राष्ट्रपति के एक प्रवक्ता ने बयान में कहा कि मालदीव का रुख स्पष्ट था। मोहम्मद मब्रोक अजीज ने कहा कि वह हमेशा फिलिस्तीनियों के साथ और इजरा’यल के अन्याय के खिला’फ एकजुटता से खड़े रहे हैं।

बाद में उन्होंने समझाया कि मालदीव और इज़’राइल के बीच सभी प्रकार के संबंधों को निलं’बित कर दिया गया था, जिसमें सभी इज़रा’इली उत्पा’दों पर प्रति’बंध भी शामिल था। हालांकि 2014 के बाद से, मालदीव में अधिकांश इज़रा’इली उत्पादों को कानूनी रूप से प्रति’बंधित कर दिया गया है और विशेष चिकित्सा उत्पादों के लिए एक विशेष परमिट है।


फिलिस्तीन में संघर्ष होने के बाद से मालदीव की जनता ने फिलिस्तीन के लिए अपना समर्थन दिखाया है। वे पूरे द्वीप राष्ट्र में फ़िलिस्तीनी ध्वज के रंगों का उपयोग करके अपना समर्थन दिखाते हैं।

मालदीव की एक विपक्षी पार्टी प्रगतिशील पार्टी (पीपीएम) के सदस्य अहमद श्याम ने यहां तक ​​​​कि संसद में एक आपात’कालीन प्रस्ताव भी प्रस्तुत किया, जिसमें इजरा’यली पर्यटकों पर प्रतिबं’ध लगाने का आह्वान किया गया था। मालदीव में भी इ’स्राइली टूरिस्ट को बैन करने को लेकर लोगों का आ’क्रोश बढ़ गया है।