बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ़ लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने धरना-प्रदर्शन किया. इस बीच नागरिकता संशोधन क़ानून यानी CAA के विरोध में भारत के अलग-अलग हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक में प्रशासन ने उन जगहों पर धारा-144 लगा दी है जहाँ प्रदर्शनकारियों के जमा होने की तैयारी थी.

भारत के साथ साथ दुनियाभर के देशों में नागरिकता एक्ट के खिलाफ लोग आवाज़ उठा रहे है। इस एक्ट के विरोध हर शिक्षित शख्स कर रहा है जो भविष्य में इसके होने वाले परिणाम जानता है।

बीबीसी न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक, हर एक सिटिज़नशिप एक्ट के खिलाफ लाखों लोग सड़को पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे है। आज प्रदर्शनकारियों ने लाल किले पर नमाज़ अदा की और अल्लाह से मुस्लिमों की सलामती की दुआ मांगी।

इस दौरान मुस्लिम प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा में गैर मुस्लिमों ने उसकी रक्षा की। साथ ही मोदी सरकार के खिलाफ़ एक सूर में खड़े हुए। उनका कहना है कि यह बिल भारतीय सविंधान में खिलाफ है और हम म’र जाएंगे लेकिन अपनी आवाज़ नीचे नहीं करेंगे।