अल कबास ने बताया कि फिलिस्तीनी लोगों के साथ एकजुटता में, कुवैत टावर्स को बुधवार को फिलिस्तीन राज्य के झंडे को लहराया यह गाजा पट्टी और विभिन्न फिलिस्तीनी क्षेत्रों में चल रहे ज़ा’योनी’वाद के प्रकाश में आता है।

कुवैत ने बुधवार को फिलीस्तीनियों का समर्थन करने के पक्ष में एक तत्काल 30-दिवसीय राहत अभियान शुरू करने की घोषणा की, जिसमें जोर देकर कहा गया कि “यह अभियान फिलिस्तीनी लोगों का समर्थन करने और इज’रा’यली कब्जे वाले बलों के ह’मलों और प्रथा’ओं के दौरान उनके द्वारा खड़े होने की प्रतिबद्धता के ढांचे के भीतर आता है। ।”

कुवैत लंबे समय से फिलिस्तीन का समर्थक रहा है। 2017 में, रूस में आयोजित एक अंतर-संसदीय संघ चर्चा के लिए एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के दौरान, कुवैत के मुख्य कानूनविद् और नेशनल असेंबली के अध्यक्ष, मरज़ौक अल-गनीम ने कैद फिलिस्तीनी सांसदों पर उनकी टिप्पणियों पर एक इज’राय’ली व्यवसाय सांसद को फट’कार लगाई।

गनीम ने कहा, “इस क्रूर कब्जे वाली संसद के प्रतिनिधि ने जो उल्लेख किया वह आ’तं’कवा’द के सबसे खत’रना’क राजा का प्रतिनिधित्व करता है।”