इस्लामिक रेवोल्यूशन गार्ड कॉर्प्स (IRGC) के कुद्स फोर्स के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल कासेम सोलेमानी की ह’त्या के बाद ईरान की सुप्रीम नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल (SNSC) बदला लेने के लिए सही वक्त और जगह का इंतज़ार कर रही है।

सोलेमानी की ह’त्या के बाद शुक्रवार को एक बयान में SNSC ने कहा, “ईरान के सुप्रीम नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल ने अपने असाधारण सत्र के दौरान आज इस घ’टना के विभिन्न पहलुओं की जांच की और उचित निर्णय लिए; और घोषणा की कि संयुक्त राज्य अमेरिका का शासन इस आ’परा’धिक साहसिकता के सभी परिणामों के लिए जिम्मेदार होगा।”

उन्होंने कहा, “अमेरिका को पता होना चाहिए कि जनरल सोलेमानी के खि”लाफ आ’परा’धिक ह’म’ला पश्चिम एशिया में इसकी सबसे बड़ी रणनीतिक गलती थी, और अमेरिका इस गलती के परिणाम से आसानी से दूर नहीं होगा।”

आईआरजीसी ने शुक्रवार सुबह एक बयान में घोषणा की कि इराक के लोकप्रिय मोबलाइजेशन यूनिट्स (पीएमयू) के दूसरे कमांड के जनरल सोलीमनी और अबू महदी अल-मुहांडिस शातिर ऑपरेशन में शहीद हो गए।