दुबई स्थित शिपिंग कंपनी में एक भारतीय नाविक 15 जुलाई से ईरान द्वारा जब्त किये गए जहाज़ से लापता है, उनके परिवार के सदस्यों ने कहा कि उन्होंने भारत और यूएई के अधिकारियों से अपील की है कि वह उनके बेटे का जल्द से जल्द पता लगाएं।

ख़लीज टाइम्स के मुताबिक, लापता सीमैन का नाम आयुष चौधरी है। परिवार के सदस्यों के अनुसार, एक उज्ज्वल छात्र था और मई में कंपनी में शामिल हो गया।

उनके पिता अनूप चौधरी बेहद निराश और हताश है लेकिन उन्होंने उम्मीद नही छोड़ी है। अनूप ने फोन पर बताया, “वह केवल 21 वर्ष का था। वह मेरा प्रिय बेटा था। मैं बहुत परेशान हूं। मुझे नहीं पता कि मुझे क्या करना है। कृपया मेरी मदद करें।”

“अपने कॉल और ऑडियो संदेशों में आयुष ने बताया कि उनकी कंपनी एक अच्छी जगह नहीं थी। उन्होंने कहा कि कुछ लोग उनके साथ बहुत बुरा व्यवहार कर रहे है और मुझे यह समझ में नहीं आ रहा कि मैं क्या करूं।