कुर्द लड़ाकों को पूरी सीरिया-तुर्की सीमा से हटाने में जुटे तुर्की ने रूस के साथ बड़ा समझौता किया है। जिसके तहत तुर्की को उन इलाकों पर नियंत्रण बना रहेगा जिस पर उसने इस महीने की शुरुआत में सीरिया पर आक्रामण के दौरान नियंत्रण हासिल किया।शेष सीमा पर रूसी और सीरियाई सेना का नियंत्रण होगा।

ये समझौता रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और तुर्की के राष्ट्रपति रचेप तैय्यप अर्दोआन के बीच रूस के सोची में हुई बैठक के दौरान हुआ। ऐसे में अब तुर्की और सीरिया मिलकर तुर्की सीरिया की सीमा की संयुक्त पेट्रोलिंग करेंगे।

समझौते में कुर्द लड़ाकों को तुर्की-सीरिया की 440 किमी लंबी सीमा से लगे बाकी इलाकों से हटने के लिए 150 घंटों का समय दिया गया है। हालांकि कुर्द लड़ाकों का कहना है कि समझौते के तहत उन्होंने अपने लड़ाकों को हटाने का काम पूरा लिया है।

एर्दोगन ने कहा कि तुर्की-रूस समझौते के तहत सीरियाई कुर्द लड़ाके 150 घंटों के भीतर पूर्वोत्तर सीरिया के सीमावर्ती इलाकों से 30 किमी दूर चले जाएंगे। यह समयसीमा बुधवार दोपहर से शुरू होगी।

रूस और तुर्की की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कुर्द बलों को मनबिज और तेल रिफत शहरों से हटाया जाएगा। बता दें कि रूस सीरिया के राष्ट्रपति का सहयोगी है और उसने अपने सैनिकों को सीमा के करीब तैनात किया हुआ है ताकि सीरिया के क्षेत्र पर विदेशी शक्ति काबिज न हो सकें।