मिस्र के एक शख्स ने अपनी पत्नी को काहिरा के रॉड एल फराग जिले में आ’ग लगा दी क्योंकि उसने उसे तीन साल में एक बच्चा नहीं हो रहा था।

मिस्र के दैनिक समाचार पत्र अल-वफद के मुताबिक, मुहम्मद ने अपनी पत्नी अया को बांध दिया, उसके ऊपर एक ज्वल’नशील पदा’र्थ डाला और फिर उसे आ’ग लगा दी। उसने उसे अपने फ्लैट में छोड़ दिया और अपने माता-पिता के घर की बालकनी पर इंतजार करने लगा, जो उसी इमारत में था, और आ’पातका’लीन सेवाओं को नहीं बुलाया।

मिडिल ईस्ट मॉनिटर के मुताबिक, पड़ोसियों ने पुलिस और एम्बुलेंस को फोन करने के बाद पाया कि वह पहले से ही अपने शरीर के 70 प्रतिशत हिस्से में गंभी’र रूप से ज’ल चुकी है और उसके एक फेफड़े को नुकसान पहुंचा है। वह ह’म’ले में नहीं बची।

पड़ोसियों ने कहा है कि मोहम्मद और उसकी मां उसकी शादी के दौरान उसका दु’रुप’योग कर रहे थे क्योंकि उनका मानना ​​था कि वह बांझ थी। उन्हें गिर’फ्ता’र कर लिया गया है और लोक अभियोजन के लिए भेजा गया है।

मिस्र में, हर साल 1.5 मिलियन महिलाएं घरेलू शोषण का अनुभव करती हैं, या हर दिन 4,000 से ऊपर मामले दर्ज किए जाते है।