डच सांसद गेर्ट वाइल्डर्स अकसर इस्लाम वि’रोधी बयान देते रहते है। इस राजनेता ने घोषणा की कि वह एक समान प्रतियोगिता शुरू करने और रद्द करने के ठीक एक साल बाद पैगंबर साहब कार्टून प्रतियोगिता को पुनर्जीवित करेगा; इससे पहले कि वह इन तरह

लेकिन इस साल उन्हें ट्विटर पर एक और घृणित प्रतियोगिता शुरू करने से नहीं रोका गया। 2018 में जो कुछ हुआ उसके विपरीत, फ्रीडम पार्टी (पीवीवी) के सांसद और नेता ने अपने अनुयायियों को अपने सुझावों में भेजा। रविवार को, वाइल्डर्स ने भी प्रतियोगिता के विजेता को पोस्ट किया।

उन्होंने पोस्ट के साथ एक कैप्शन में लिखा,”मिशन पूरा हुआ”। चित्रण काले रंग के कपड़े पहने दाढ़ी वाले एक गुस्से वाले व्यक्ति में से एक है।

मुस्लिम देशों में इसे इस्लाम की तौहीन बताया है लेकिन नीदरलैंड की सरकार ने कभी इसके ख़ि’लाफ़ कोई कार्यवाही नही की है। “प्रतिबं’ध” पूरी दुनिया में इस्लामी विद्वानों द्वारा किए गए धार्मिक फैसलों पर आधारित है।