जो मुसलमान चीन में रह रहे हैं, वह कोरोना वायरस से अपनी हिफाज़त के किये नमाज़ पढ़कर अल्लाह से दुआ कर रहे है ताकि वे चीन में कोरोनावायरस के प्रकोप से सुरक्षित रहें ।

कई सालों से चीन के उईगर मुसलमानों को गलत तरीके से कैद और प्रता’ड़ित किया जा रहा है क्योंकि वे चीनी मुसलमानों के लिए हैं।

वे अपने सामने चीनियों को म’रते हुए देखकर खुश नहीं हैं लेकिन चीन में 30 मिलियन मुसलमानों ने कोरोनोवायरस को प्रभावित नहीं किया है।

महत्वपूर्ण बात यह है कि मुसलमान नकाब पहने बिना नमाज़ अदा कर रहे हैं क्योंकि अल्लाह उनके साथ है। वह अल्लाह से मदद मांग रहे है।