फिलिस्तीनियों पर हमले को लेकर एकजुटता दिखाने वाले मुस्लिमों देशों में फिर तना’व बढ़ सकता है. फिलिस्तीन पर ह’मले के चलते इस्लामिक देशों की बैठक में उभर कर सामने आया तना’व और गहरा हो सकता है. क्योंकि इज’रा’यल और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने टैक्स को लेकर एक समझौते पर सोमवार को हस्ताक्षर किए हैं. इ’जरा’यल के वित्त मंत्रालय ने बताया कि पिछले साल दोनों देशों के बीच रिश्तों के सामान्य होने के बाद इस दिशा में यह कदम उठाया गया है.

यूएई के वित्त मंत्रालय ने अक्टूबर में बताया था कि वह दोहरे कराधान से बचने के लिए इज’राय’ल के साथ प्रारंभिक समझौता कर चुका है. दोनों पक्षों के इस करार को इस साल मंत्रियों और संसद ने मंजूरी दी. दोनों पक्षों के बीच यह समझौता 1 जून 2022 से प्रभावी होगा.

पिछले साल संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और इज’रायल के बीच संबंधों के सामान्य होने के बाद यह पहली कर संधि है. इसी तरह इजरा”यल मोरक्को और सूडान के साथ भी संबंधों को सामान्य बनाने की दिशा में आगे बढ़ रहा है.