राष्ट्रपति रजब तय्यब एर्दोगान ने बुधवार को घोषणा की है की तुर्की ने अपनी पहली घरेलू उत्पादित लंबी दूरी की वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली बनाने के लिए काम शुरू कर दिया है.

तुर्की मीडिया के मुताबिक, 2021 के लिए साइपर नामक प्रणाली की पहली डिलीवरी (अंग्रेजी में अर्थात् खदान) की योजना बनाई गई है, एर्दोगान ने राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी विकास बुनियादी ढांचे के उद्घाटन समारोह में कहा तुर्की अब और भी शक्तिशाली बनेगा.

समारोह अंकारा में तुर्की वैज्ञानिक और तकनीकी अनुसंधान परिषद (टीयूबीआईटीएके) रक्षा उद्योग अनुसंधान और विकास संस्थान (एसएजी) परिसर में आयोजित किया गया. एर्दोगान ने कहा, तुर्की रक्षा, विमानन और अंतरिक्ष प्रौद्योगिकियों के सभी क्षेत्रों में एक कहना है कि तुर्की तेजी से आगे बढ़ रहा है.

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया को मिली जानकारी के मुताबिक, उन्होंने कहा, “हमने रक्षा उद्योग में हमारी इलाके की दर में 20 प्रतिशत से 65 प्रतिशत की वृद्धि की है … हम रक्षा उद्योग में शुरू होने वाली हमारी राष्ट्रीय रक्षा चालों को निरंतर जारी रखते हुए एक स्वतंत्र और मजबूत तुर्की के लक्ष्य तक पहुंच जाएंगे.”

एर्दोगान ने काह की, “लंबी दूरी की क्षेत्रीय वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली के लिए हमारी आवश्यकता विभिन्न अवसरों पर आती है. राष्ट्रीय लंबी दूरी की क्षेत्रीय वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली के कार्यों की शुरूआत टुबटकक एसएजी, असेलसन और रोकेट्स द्वारा की गई थी।.उनकी पहली डिलीवरी 2021 के अंत में होने वाली है.