अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने कहा है कि मध्यपूर्व में ईरान का मुक़ाबला करने के लिए वाशिंग्टन को सऊदी अरब की ज़रूरत है।

ट्रम्प के इस बयान ने सऊदी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या में आले सऊद शासन के शामिल होने के आरोपों के सिद्ध होने की स्थिति में रियाज़ के ख़िलाफ़ वाशिंगटन की स्थिति को कमज़ोर कर दिया है।

ट्रम्प का कहना था कि सऊदी अरब मध्यपूर्व में अमरीका का महत्वपूर्ण घटक है। हमें ईरान का मुक़ाबला करने के लिए उनकी ज़रूरत है।

रियाज़ सरकार द्वारा इस्तांबुल स्थित कांसूलेट में क़ाशुक़जी की हत्या की बात स्वीकार करने के बाद, ट्रम्प का यह बयान सामने आया है।

अमरीकी राष्ट्रपति का यह भी कहना था कि हमें सऊदी अरब के साथ हुए 110 अरब डॉलर के हथियारों के समझौते को रद्द नहीं करना चाहिए, इसलिए कि इससे 6 लाख नौकरियां पैदा होंगी।