कोरोना काल में दुनिया की अर्थव्यवस्था में अभूतपूर्व मंदी आई है. इसके चलते सभी देश अपनी-अपनी अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए बड़ी तादाद में छंटनी कर रहे हैं जिससे बड़ी संख्या में लोग बेरो’जगार हो रहे हैं. खाड़ी देशों में अपने नागरिकों को रोजगार देने के लिए बड़ी तादाद में प्रवासियों को बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है.

कुवैत भी देश में प्रवासियों की संख्या कम से कम करने पर लगातार काम कर रहा है. अब कुवैत में सु’रक्षा गार्डों की नौकरी भी खटाई में पड़ गयी है. कुवैत में अब सु’रक्षा बढ़ाने के लिए उच्च तकनीक का प्रयोग करके सिक्यू’रिटी गार्ड की नौकरी करने वाले प्रवासियों की सेवाएं समाप्त की जाने वाली हैं.

खबरों के अनुसार, कुवैत लगातार देश में प्रवासियों की संख्या को कम करने और अपने नागरिकों को रोजगार मुहैया कराने के लिए ऐसे कदम उठा रहा है. बता दें कि हाल ही में कुवैत में ऐसा कानू’न भी बना है जिसके तहत देश में प्रवासियों की संख्या कम करके देश के नागरिकों को ही रोजगार देने की प्राथमिकता होगी.

कुवैत के सामाजिक और आर्थिक मामलों के मंत्री मरियम अल अकील ने कहा कि उनके मंत्रालय ने सि’क्यो’रिटी गार्डों की संख्या में 25 फीसदी की कटौती करने के लिए तकनीक का इस्तेमाल करने पर विचार किया है. इसके तहत कुवैत में अब सिक्यो’रिटी के लिए सिक्यो’रिटी गार्ड्स की जगह हाई टेकनीक का इस्तेमाल किया जायेगा.