आज वर्ल्ड न्यूज अरेबिया आपको सऊदी के एक खास शहर के बारे में बताएगा.हम बात कर रहे हैं सऊदी अरब की राजधानी रियाद के बारे में. रियाद सऊदी अरब का राजधानी शहर है और यह शहर सऊदी की सबसे अधिक आबादी वाला क्षेत्र भी है , जो की 6 मिलियन लोगों का घर हैं. साथ लाख से ज्यादा लोगों इस शहर में रहते हैं और रियाद अरब प्रायद्वीप में एक केंद्रीय स्थान है.

सऊदी विरासत को करता है संरक्षित
यह शहर ऐतिहासिक स्थलों, पुरातात्विक स्थलों और समकालीन वास्तुकला से दर्शकों को मन्त्रमुग्ध करता है, यह शहर सऊदी अरब की विरासत को संरक्षित करता है और वैश्विक शहर के रूप में भी विकसित हो रहा है.

ऐतिहासिक किंग अब्दुलअजीज सेंटर

इसकी साइटों में पुराने अवशेष मस्माक किले, सऊदी अरब के संस्थापक राजा अब्दुल अज़ीज़ का महल रियाद और मुरब्बा पैलेस शामिल हैं, जिन्हें अब राजा अब्दुल अज़ीज़ ऐतिहासिक केंद्र के नाम से जाना जाता है.रियाद में पुराने महलों के साथ-साथ आधुनिक महल भी हैं.

सऊदी अरब की ऊँची इमारत
किंगडम सेंटर ने 2002 में “डिजाइन और कार्यक्षमता” के लिए एम्पोरिस स्काईस्क्रेपर पुरस्कार जीता. टावर में 99 लेवल हैं, जिसे सऊदी अरब में तीसरी सबसे ऊंची इमारत माना जाता है. सऊदी अरब की दूसरी सबसे ऊंची इमारत बुर्ज राफल भी राजधानी रियाद में है.

किंगडम सेंटर

सऊदी अरब में बुर्ज अल-फैसलियाह, या अल-फैसलियाह केंद्र गगनचुंबी इमारत में नंबर वन पर है, जिसमे 44 मंजिल हैं और शहर के लिए एक स्मारक है क्योंकि इसमें कई विश्व ब्रांड और इसके परिसर में एक होटल है.

राजधानी शहर किंग फहद इंटरनेशनल स्टेडियम के साथ-साथ फीफा कन्फेडरेशंस कप और फीफा यू -20 विश्व कप में सऊदी के फुटबॉल चैंपियनशिप लीग मैचों में से कई का आयोजन करता है.

रियाद शब्द अरबी भाषा के शब्द रवधा से आया है जिसका अर्थ उद्यान या बगीचा होता है, विशेष रूप से वो वनस्पति जो बारिश के बाद मरुस्थल मे स्वयं उग आती है. रियाद 1500 वर्षों से अधिक समय से अरब प्रायद्वीप के मध्य मे स्थित एक उपजाऊ क्षेत्र है.

रियाद ऐतिहासिक रूप से अपने खजूरों और फलौद्यान के लिए मशहूर रहा है. आधुनिक नाम को पहले केवल उन कुछ भागों जहां फलों के उद्यान थे के लिए प्रयुक्त किया जाता था, धीरे धीरे इस नाम को पूरे क्षेत्र के लिए इस्तेमाल किया जाने लगा.