सऊदी अरब ऐसा है ऐसा देश है जहाँ कई मिलियन प्रवासी नौकरी करते है. यह प्रवासी कर्मचारी सऊदी के अलग- अलग विभागों में काम करते है. अगर हम सऊदी में घरेलु कर्मचारी यानी नौकर की बात करें तो यह ज्यादा प्रवासी बांग्लादेश, फिलिपीन और वियतनाम से आते है. अक्सर सऊदीयों पर अपने नौकरों के साथ ज़ुल्म की दास्तानें सामने आती रहती है.

अल जज़ीरा के मुताबिक, फाम थाई दाओ हनोई के दक्षिण-पश्चिम, होआ बिन्ह प्रांत के केंद्रीय शहर से पीटा ट्रैक से उसकी सात वर्षीय बेटी हांग अंह के साथ एक त्याग किए गए घर में रहती है.

46 वर्षीय दाओ, सऊदी अरब में सात महीने से अधिक समय तक घरेलू कर्मचारी यानी नौकरानी के रूप में काम करती थी, जब तक वे अप्रैल में वियतनाम नहीं लौट आयीं. यानी उन्होंने अप्रैल तक सऊदी में नौकरानी के रूप में काम किया.

Pham Thi Dao, 46, says she worked more than 18 hours a day and was given the same one meal to live on – a slice of lamb and plain rice

दाओ ने बंदरगाह शहर यानबू में अपने अनुभव बताते हुए अल जज़ीरा से कहा, “मैंने सुबह 5 बजे से 1 बजे तक काम किया था. मुझे दिन में सिर्फ एक बार ही खाना खाने की इजाज़त मिलती थी. “यह हर दिन एक ही था – भेड़ का एक टुकड़ा और सादे चावल की एक प्लेट दी जाती थी. लगभग दो महीने बाद, मैं पागल इंसान की तरह रहती थी.”

वियतनाम के श्रम मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, वर्तमान में सऊदी में 20,000 वियतनामी प्रवासी श्रमिक हैं, जिसमें से लगभग 7,000 सऊदी परिवारों के लिए घरेलू कर्मचारियों के रूप में काम करते हैं.

2014 में, दोनों देशों ने पांच साल के श्रम संधि पर हस्ताक्षर किए जिसने खाड़ी देश में अधिक वियतनामी नागरिकों के लिए काम करने का मार्ग प्रशस्त किया. सऊदी अरब घरेलू श्रमिकों के दुनिया के सबसे बड़े आयातकों में से एक है.