रियाद- ब्लूमबर्ग ने शुक्रवार को क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान, उप प्रधान और रक्षा मंत्री के साथ इंटरव्यू के पहले अंश प्रकाशित करना शुरू किया जिसके बाद पूरी दुनिया का ध्यान सऊदी की तरफ आकर्षित हुआ. बिन सलमान का यह इंटरव्यू सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर दुनिया भर में चल रहा है. यह वेबसाइटों और समाचार चैनलों के साथ-साथ कई समाचार पत्रों की फ्रंट पेज की हैडलाइन बन गया है.

सऊदी गेजेट के मुताबिक, क्राउन प्रिंस ने दोहराया कि सऊदी अपनी महत्वाकांक्षी सुधार योजनाओं के साथ आगे बढ़ेगा. उन्होंने कहा कि आज सऊदी बहुत मजबूत है. साक्ष्य के रूप में उन्होंने 2019 राज्य बजट अनुमान को देखा जो  1.106 ट्रिलियन सऊदी रियाल तक बढ़ गया है और आय या गैर-तेल राजस्व 300% तक बढ़ गया है.

क्राउन प्रिंस मुहम्मद ने कहा कि बेरोजगारी दर 2019 तक गिरने लगेगी जब तक कि यह 2030 में 7% तक पहुंच जाए. उन्होंने जोर देकर कहा कि सरकार को अभी भी सेना, सुरक्षा एजेंसियों, शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में कई नौकरियां बनाने की जरूरत है जो हाल ही में खेल आदि जैसे बनाए गए.

क्राउन प्रिंस ने कहा, “मुझे लगता है कि यह आज के सुधार हुए हैं. हमने सऊदी अरब में गैस की कीमतों में सुधार किया है. इसी के साथ हमने बिजली की कीमतें, पानी की कीमतों में भी सुधार किया जिसके बाद अब सऊदी में रहने वाले किसी भी शख्स को ज्यादा टैक्स नहीं देना होगा.  तो सुधार, यह हो गया है जिसमें कर वैट शामिल है इसपर कोई भी टैक्स नहीं लगाया जाएगा.

इंटरव्यू से पता चला कि कई चर्चाएं हुईं कि क्या सरकार नागरिक के खाते के साथ जारी रहेगी या क्षतिपूर्ति देने पर अधिक भरोसा करेगी. नागरिक का खाता सरकार की इच्छा थी क्योंकि यह सुनिश्चित किया गया कि आर्थिक सुधारों से नागरिकों को नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा.