2017 में सऊदी अरब क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने क्राउन प्रिंस का तख्तोताज अपने सिर पहना. सिर्फ एक साल में बिन सलमान ने सऊदी का तख्तापलट कर दिया है. सऊदी में नयी नीतियाँ लागू करके खुद के लिए कई दुश्मन ढूढ़ लिए है इतना ही नहीं खुद सऊदी ही उनकी नीतियों के खिलाफ खड़े हो गये है. बिन सलमान के खिलाफ आवाज़ उठाने वालों को कतई बख्शा नहीं जाता है इसका जीता-जागता उदहारण सऊदी जेल में गिरफ्तार धर्मगुरु, मुफ़्ती, पत्रकार, वकील है.

बिज़नेस इनसाइडर की रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रुकिंग्स इंस्टीट्यूशन के इंटेलिजेंस के निदेशक ब्रूस रिडेल ने कहा की घर और विदेश में 32 वर्षीय क्राउन प्रिंस द्वारा उत्तराधिकार और निर्णयों की शाही रेखा में परिवर्तन ने सऊदी की लंबी स्थिरता को कमजोर कर दिया है और आलम यह है की बिन सलमान को अपनी सुरक्षा के बारे में संदेह होना पड़ रहा है.

बिन सलमान को बढ़ती ‘दुश्मनी’ के बारे में पता है

रिडेल ने अल-मॉनिटर में लिखा कि, “उनकी सुरक्षा के लिए डरते हुए, क्राउन प्रिंस ने जेद्दाह में अपने आधे-अरब डॉलर की पानी के जहाज़ पर कई रात बिताई है. वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया को मिली जानकारी के मुताबिक, फ्रांस के दक्षिण में छुट्टियों के दौरान बिन सलमान ने 2016 के अंत में, सीरेन नामक 440 फुट लंबी नौका पर आधे बिलियन डॉलर में खरीदा था.

उन्होंने इसे रूसी अरबपति से खरीदा, जिस दिन सौदे पर हस्ताक्षर किए गए थे, और जहाज में दो हेलीपैड, एक इनडोर क्लाइंबिंग दीवार, एक पूरी तरह से सुसज्जित स्पा और तीन स्विमिंग पूल शामिल हैं.

रिडेल आगे लिखते है कि, लेकिन बिन सलमान ने इसे खरीदा क्योंकि उन्होंने घर पर गंभीर तपस्या को बढ़ावा देने में मदद की, जिसमें प्रमुख व्यय कटौती और सरकारी अनुबंधों पर स्थिरता शामिल है. इस तरह के खर्च अक्सर असंतोष  करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

रिडेल ने नौका के बारे में लिखा, “यह एक फुटबॉल मैदान से अधिक और एक भट्ठी के साथ एक फ़्लोटिंग महल है.” यह बेहद सुरक्षित माना है.