जेद्दाह – सऊदी प्रेस एजेंसी ने मंगलवार को बताया कि, सऊदी अरब के विदेश मंत्रालय ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमानुअल मैक्रॉन के दावे से इंकार कर दिया कि सऊदी अरब ने लेबनान के प्रधान मंत्री साद हरिरी को पिछले नवंबर में कैद कर लिया था.

सऊदी गेजेट के मुताबिक, विदेश मंत्रालय के एक आधिकारिक सूत्र ने एक बयान में कहा कि, “चैनल बीएफएम टीवी के साथ हुए एक इंटरव्यू में फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने कहा कि सऊदी ने लेबनान के प्रधान मंत्री साद हरिरी को गिरफ्तार करके गलत किया था.

सूत्र ने कहा कि सऊदी लेबनानी प्रधान मंत्री हरिरी की सभी साधनों के साथ लेबनान की स्थिरता और सुरक्षा का समर्थन जारी रखेगा.

बयान में कहा गया कि, “सभी सबूत पुष्टि करते हैं कि लेबनान और अस्थिरता के क्षेत्र में जो क्षेत्र खींच रहा है वह ईरान और उसके उपकरण हिजबुल्लाह आतंकवादी विद्रोही की तरह है जो पूर्व लेबनान के प्रधान मंत्री रफीक हरिरी की हत्या और लेबनान में दो फ्रांसीसी नागरिकों की हत्या में शामिल थे.”

अरब नामा को मिली जानकारी के मुताबिक, “ईरान सऊदी शहरों पर इन मिसाइलों को दागने वाले हुती विद्रोहियों सहित आतंकवादी मिलिटिया को हथियार और बैलिस्टिक मिसाइल भी प्रदान कर रहा है.”

source: SAUDI GAZETTE

आधिकारिक सूत्र ने कहा कि सऊदी ईरान और उसके उपकरणों के नेतृत्व में इस क्षेत्र में अराजकता और विनाश की ताकतों का सामना करने के लिए फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रोन के साथ काम करने की उम्मीद कर रहा है.