जेद्दाह-पिछले साल सऊदी अरब में क्राउन प्रिंस बिन सलमान की अध्यक्षता में भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए भ्रष्टाचार विरोधी समिति बनायीं गयी थी.जिसमे देश के कई बड़े-बड़े नामी चेहरों के साथ शाही प्रिंस और मंत्रियों और अधिकारीयों को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार किये जाने की लिस्ट में प्रिंस अलवलीद बिन तलाल भी शामिल है.

किंग सलमान की हुई सराहना 

अरब न्यूज के अनुसार राष्ट्रीय भ्रष्टाचार आयोग के अध्यक्ष, डॉ खलील बिन अब्दुलमोहनसेन अल-मुहाइसेन ने भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए देश में हो रहे प्रयासों के लिए राजा सलमान की सराहना की.

संयुक्त राष्ट्र कन्वेंशन अगेन्स्ट भ्रष्टाचार को अपनाने की 15 वीं वर्षगांठ पर संयुक्त राष्ट्र महासभा में अल-मुहाइसेन ने कहा की “उनके प्रयासों ने बहुत गहरा प्रभाव डाला है.”

उन्होंने कहा की “भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई तब तक सफल नहीं हो सकती जब तक कि यह स्पष्ट दृष्टि, राजनीतिक समर्थन और पूरक राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रयासों पर आधारित ना हो.”

अरब न्यूज के अनुसार उन्होंने कहा कि “देश के विज़न 2030 सुधार योजना की मुख्य नींव पारदर्शिता, अखंडता और भ्रष्टाचार से लड़ाई रही है.” उन्होंने कहा की “देश भ्रष्टाचार के मामलों में किसी को भी प्रतिरक्षा नहीं देता है.”

अल-मुहाइसेन ने बैठक आयोजित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र सचिवालय का शुक्रिया अदा किया, और यूएनसीएसी को लागू करने के लिए राज्य दलों के साथ अपने प्रयासों के लिए ड्रग्स एंड क्राइम (यूएनओडीसी) पर संयुक्त राष्ट्र कार्यालय का धन्यवाद किया.

उन्होंने निष्पक्ष और पारदर्शी वातावरण में सतत विकास को सक्षम करने के लिए देशों के बीच सहयोग के महत्व पर बल देते हुए, भ्रष्टाचार को रोकने और लड़ने के लिए सभी अंतर्राष्ट्रीय प्रयासों की सराहना की.