SOURCE: ARAB NEWS

न्यू यॉर्कः संयुक्त राष्ट्र के अब्दल्लाह अल-मौलमीमी के सऊदी अरब के राजदूत ने कहा है कि ईरान समर्थित हुती विद्रोही यमनई पीड़ा के लिए जिम्मेदार “प्रमुख अभिनेता” है. सऊदी राजदूत ने आगे कहा कि, यमन की बदहाली और बिगड़ते हालातों का जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ ईरान है.

अरब न्यूज़ के मुताबिक, मंगलवार को सशस्त्र संघर्ष में नागरिकों की सुरक्षा और रक्षा को लेकर सुरक्षा परिषद में खुली बहस में अल-मौलमीमी ने ईरान पर निशाना साधा.

अरब नामा को मिली जानकारी के मूताबिक, उन्होंने कहा कि यह यमनियों की रक्षा में संयुक्त राष्ट्र में तेहरान के प्रतिनिधि से बात सुनने के लिए हास्यास्पद था. क्योंकि यमन की पीड़ा का “प्रमुख कारण” ईरान है और ईरान समर्थित हुती विद्रोही है.

यूनाइटेड नेशन सुरक्षा परिषद् में बोलते हुए उन्होंने कहा कि यमन में सऊदी नेतृत्व वाले अरब गठबंधन ने नागरिकों को नुकसान ना पहुंचाने के लिए अत्यधिक ध्यान दे रहे है.  सऊदी अरब यमन में रमजान के दौरान खाद्य सामग्री भी वितरिक कर रहा है ताकि किसी भी नागरिक को खाने की कमी ना हो सकें.

उन्होंने कहा कि ईरानी समर्थित हुती विद्रोही देश में तीन साल पहले सत्ता संभालने के बाद यमेनी नागरिकों के खिलाफ सबसे बड़ा दुरुपयोग कर रही है.