रियाद। सऊदी अरब में महिलाओं को अकेले रेस्‍तरां में जाने का अधिकार नहीं था। जिसे अब लागू कर दिया गया है। बता दें कि कानूनी तौर पर किसी महिला को अकेले रेस्‍तरां में प्रवेश करने पर प्रतिबंध था। वह किसी पुरुष रिश्‍तेदार के साथ ही रेस्‍तरां में प्रवेश कर सकती थीं।

इसे साथ ही रेस्तरां के अलग-अलग प्रवेश द्वार को भी ख’त्म कर दिया है। पहले,परिवारों और महिलाओं के लिए एक प्रवेश द्वार होना अनिवार्य था और दूसरा पुरुषों के लिए अलग से प्रवेश द्वार था। कई रेस्तरां, कैफ़े और अन्य बैठक स्थल अब इस तरह के अलगाव नहीं देखने को मिलेगा

इससे पहले सऊदी अरब की महिलाओं को स्वतंत्र रूप से यात्रा करने की अनुमति मिली है। इस पहले पुरुष अभिभावक का साथ होना जरूरी था। इस साल की शुरुआत में,एक शाही फरमान ने सऊदी महिलाओं को एक पुरुष अभिभावक की अनुमति के बिना विदेश यात्रा करने की अनुमति दी।

सऊदी अरब के क्राउन प्र‍िंस मोहम्‍मद बिन सलमान के विजन 2030 का हिस्सा बताया है। बता दें कि सऊदी अरब की असल सत्ता प्रिंस सलमान के ही हाथ में है और वो सऊदी शासन को तरक्की पसंद और उदारवादी चेहरा देना चाहते हैं।