SOURCE: SAUDI PRESS AGENCY

जेद्दाह: संयुक्त राष्ट्र द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, सऊदी अरब वैश्विक मानवीय सहायता और विकास के दुनिया के अग्रणी समर्थकों में से एक है. साथ ही सऊदी ने रमजान के दौरान गरीब देशों की मदद को दुगना कर दिया है.

 सऊदी प्रेस एजेंसी को जारी एक प्रेस बयान में, किंग सलमान मानवतावादी सहायता और राहत केंद्र (केएसआरिलिफ़) के पर्यवेक्षक जनरल डॉ अब्दुल्लाह अल-रबीया ने कहा कि सऊदी पिछले 18 साल से फिलीस्तीनी को विभिन्न श्रेणियों में 6 अरब डॉलर की सहायता की है.

अरब न्यूज़ के मुताबिक, सऊदी विभिन्न संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों से फिलीस्तीनी लोगों की राहत के लिए सऊदी राष्ट्रीय समिति और अंतर्राष्ट्रीय गैर-सरकारी संगठनों के माध्यम से फिलिस्तीनियों का समर्थन जारी रखता है. हालांकि, पिछले तीन वर्षों से अधिकांश सऊदी के अंतरराष्ट्रीय मानवीय सहायता कार्यक्रम और फिलिस्तीन और अन्य जगहों पर मदद किंग सलमान रिलीफ के माध्यम से की जा रही है.

अल-रबीया ने कहा कि सऊदी द्वारा प्रदान की जाने वाली सबसे महत्वपूर्ण विकास सहायता वेस्ट बैंक में फिलीस्तीनी शरणार्थी शिविरों में आवास इकाइयों के निर्माण और पुनर्निर्माण के लिए $ 263.17 मिलियन थी, जिसमें ऐन अल-हिल्व और नहर अल-बरेद शिविर शामिल थे.

 अरब नामा को मिली जानकारी के मुताबिक, सऊदी ने एक एकीकृत आवासीय शहर के निर्माण के लिए यूएनआरडब्ल्यूए के माध्यम से लागू राफह (चरण 1) में $ 107 मिलियन आवास परियोजना को वित्त पोषित किया, जिसमें 4,564 लोगों के लिए 752 आवास इकाइयां, चार स्कूल, एक स्वास्थ्य केंद्र, एक सांस्कृतिक केंद्र, एक मॉल, एक मस्जिद, पक्की सड़कों, सड़क रोशनी और पानी की आपूर्ति की सुविधा शामिल है.

SOURCE: ARAB NEWS

उसी राफह परियोजना के दूसरे चरण में 4,761 लोगों, दो स्कूलों, एक मस्जिद, और बिजली और जल आपूर्ति बुनियादी ढांचे के लिए 765 आवास इकाइयां शामिल थीं. ऐन अल हिल्व और नहर अल बरेड शिविरों में पानी और बिजली नेटवर्क और सड़कों को उपलब्ध कराने के लिए दो अतिरिक्त परियोजनाएं भी शुरी की गईं. साथ ही सऊदी सूडान, यमन, सीरिया और कई अन्य देशों की मदद कर रहा है.