खाड़ी देशों के बीच, सिर्फ संयुक्त अरब अमीरात ने अपने हवाई अड्डे खोले हैं। अन्य खाड़ी देशों के पास वंदे भारत मिशन के तहत मानवीय, प्रत्यावर्तन उड़ानों के लिए प्रवेश प्रति’बंध हैं।

भारत और यूएई के बीच हवाई सेवा जिसके तहत दोनों देशों के बीच संचालित दो-तरफा उड़ानें आज समाप्त हो गईं। वैसे UAE 1 अगस्त से फिर से वंदे मिशन शुरू करने जा रही है।

इस बीच, अन्य खाड़ी देशों – ओमान, कुवैत, बहरीन, सऊदी अरब के साथ दो-तरफ़ा उड़ान समझौते का इंतजार कर रहे हैं। भारत और खाड़ी देशों के बीच दो-तरफा सामान्य परिचालन फिर से शुरू करने के लिए मांग बढ़ रही है।

हालांकि, इन हवाई सम्झौते पर हस्ताक्षर सिर्फ भारत पर ही निर्भर नहीं करता है। यह देशों में लगाए गए यात्रा प्रति’बंधों पर भी निर्भर करता है।