सऊदी अरब में रह रहे प्रवासी कामगारों के रेसिडेंस परमिट जिसे इकामा भी कहते हैं, उसे सऊदी अरब के शाह के आदेश के बाद ऑटोमेटिक एक्सटेंशन के लिए जवाज़त कार्यालय ने नोटिस जारी कर दिया है. इस महीने की शुरुआत में ही सऊदी अरब के किंग सलमान ने 3 महीने के एक्सटेंशन की घोषणा की थी. अब सारे प्रवासी कामगारों के एक्सपायर कर चुके एग्जिट और रिटर्न वीज़ा और 3 महीनों के लिए बिना किसी शुल्क के वैलिड कर दिया गया है.

वह सारे प्रवासी कामगार जो सऊदी अरब का वीजा रखते हैं और हवाई यात्रा बंद होने के वजह से सऊदी अरब काम पर नहीं लौट सके हैं यह फैसला उन सब को राहत देने के लिए लिया गया है. जवाज़त के अधिकारी आंतरिक मंत्रालय के साथ तालमेल बिठाकर ऑटोमेटिक एक्सटेंशन वीजा के ऊपर प्रवासियों के लिए मुहैया कराएंगे इसके लिए कहीं पर भी अप्लाई करने की जरूरत नहीं है.

जवाज़त से 1 प्रवासी कामगार ने ट्विटर के माध्यम से पूछा कि वह इस वक्त सऊदी अरब से बाहर हैं और उनके पास सऊदी अरब में काम करने का वीजा लगा हुआ है तो क्या उन्हें अपने वीजा को एक्सटेंड कराने के लिए कहीं आवेदन करना जरूरी है या कहीं पर शुल्क अदा जरूरी है? इस पर कार्यालय ने जवाब दिया कि सऊदी अरब में शाही निर्देश को मानते हुए आप सब के वीजा और परमिट को 3 महीने के लिए मुफ्त में बिना किसी कार्यालय में गए हुए ऑटोमेटिक बढ़ा दिया गया है. सऊदी अरब प्रवासी कामगारों का सम्मान करता है क्योंकि उनके वजह से ही सऊदी अरब अपने नए स्वरूप में प्रतिदिन बदलता है, सऊदी अरब में कुल मिलाकर एक तिहाई आबादी प्रवासी कामगारों की है.