Minister of Haj and Umrah Muhammad Bin Saleh Bentin and Sheikh Abdulrahman Al-Sudais, chief of General Presidency of the Affairs of the Two Holy Mosques at a meeting in Makkah, Sunday. — Okaz

सऊदी अरब के आंतरिक मंत्रालय ने पुष्टि की कि यह आगामी हज के दौरान मक्का में पवित्र स्थलों में प्रवेश करने वाले उल्लं’घनक’र्ताओं के लिए 10,000 सऊदी रियाल ($ 2,666) का जुर्मा’ना लगाया जाएगा, जो इस साल कोरोनोवायरस महा’मारी के कारण सीमित क्षमता में आयोजित किया जाएगा।

किंगडम के आंतरिक मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि जुर्माना 19 जुलाई से 28 अगस्त तक लागू होगा। यह जुर्मा’ना दोहराए गए अपराधियों के लिए दोगुना 20,000 सऊदी रियाल ($ 5,332) होगा।

“आंतरिक मंत्रालय के एक आधिकारिक सूत्र ने इस साल सभी नागरिकों और निवासियों से हज के दौरान निर्देशों का पालन करने का आह्वान किया, इस बात पर जोर दिया कि सुरक्षा अधिकारी उल्लं’घन को रोकने के लिए पवित्र स्थलों तक जाने वाले सभी रास्तों और रास्तों पर अपने कर्तव्यों का पालन करेंगे।”


सऊदी प्रेस एजेंसी (एसपीए) पर जारी आं’तरिक मंत्रालय का एक बयान, निर्दिष्ट अवधि के दौरान क्षेत्रों में प्रवेश करने के किसी भी प्रयास को नियंत्रित करेंगे।“ बता दें कि कोविड-19 कोरोनावायरस महामारी के निरंतर जोखिम के कारण सऊदी अरब इस साल सीमित हज यात्रा की अनुमति देगा।

अधिकारियों ने पुष्टि की कि उन्होंने इस वर्ष हज के लिए हज यात्रियों की संख्या को सीमित COVID-19 महामारी पर सुरक्षा चिंता’ओं के अनुरूप सीमित कर दिया है। हज इस्लाम के पांच स्तंभों में से एक है और मुसलमानों को अपने जीवनकाल में कम से कम एक बार सक्षम होने पर हज करना चाहिए। पिछले साल, 2.5 मिलियन तीर्थयात्रियों ने मक्का और मदीना के लिए हज यात्रा की थी।