सऊदी खाद्य एवं औषधि प्रशासन ने रविवार को भारतीय राज्य केरल से अस्थायी रूप से जमे हुए और संसाधित फल और सब्जी आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है. सऊदी प्रेस एजेंसी ने एक बयान में कहा कि प्रतिबंध विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्टों पर आधारित है, क्योंकि इन दिनों भारत के केरल राज्य में मौत का वायरस बनकर “निपाह वायरस फ़ैल रहा है.

आपको बता दें कि, इससे पहले संयुक्त अरब अमीरात ने केरल से आयात पर भी प्रतिबंध लगा दिया है. भारतीय स्वास्थ्य अधिकारी निपाह प्रकोप की उत्पत्ति का पता लगाने में सक्षम नहीं हुए हैं और संक्रमण के संदिग्ध महाकाव्य पेरामंबरा से फल चमगादड़ पर परीक्षण का एक नया दौर चला चुके हैं. गौरतलब है कि अब तक निपाह से 16 लोगों की मौत हो चुकी है.

अरब न्यूज़ के मुताबिक, संयुक्त राज्य अमेरिका के जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण मंत्रालय ने केरल से किसी भी ताजा उपज के प्रवेश को रोकने के लिए अबू धाबी खाद्य नियंत्रण प्राधिकरण और अपने अमीरात की नगर पालिकाओं सहित अन्य स्थानीय अधिकारियों को अधिसूचित किया है. आपको बता दें की भारत में तेज़ी से निपाह वायरस फैलने के बाद UAE की तरफ से यह बयान जारी किया गया है.

मंत्रालय को संदेह है कि फल चमगादड़ वायरस का स्रोत हैं. क्योंकि अगर चमगादड़ फलों को थोडा भी खा ले तो उस फल के साथ दुसरे फलों में भी यह मौत का वायरस तेज़ी से फ़ैल जाता है. इस वायरस का असर सीधा मनुष्य में दिमाग में होता जिसमें वह कोमा जैसी स्थिति में पहुँच जाता है और उसकी मौत हो जाती है.

आपको बता दें कि आम, खजूर और केला चमगादड़ के पसंदीदा फलों में शामिल है, इसलिए यह वायरस इन फलों में तेज़ी से फैला रहा है. भारतीय स्वास्थ्य अधिकारी निपाह प्रकोप के फैलने का अभी तक पता नहीं लगा पाएं है ना ही इसका ईलाज ढूंढ पाए है