रियाद – सऊदी नागरिक जो नौकरी ढूँढने की तलाश कर रहे है उनके लिए अच्छी खबर है.

स्मॉल एंड मिडिल एंटरप्राइजेज अथॉरिटी के रिटेल सेक्टर डेवलपमेंट मैनेजर महमूद माजी ने कहा कि 12 बिजनेस गतिविधियों के बिक्री आउटलेट पर करीब 490,000 नौकरियां अगले हिजरी वर्ष की शुरुआत तक सऊदी नागरिकों को दे दी जाएंगी.

सऊदी गेजेट के मुताबिक, मंगलवार को अल-इकतीसादिया व्यापार द्वारा प्रकाशित टिप्पणियों में माजी ने कहा कि सऊदीयों को घड़ियों, चश्मे, कार स्पेयर पार्ट्स, मेडिकल उपकरण, इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों, निर्माण सामग्री और सभी प्रकार के कालीनों के लिए बिक्री आउटलेट में नियोजित किया जाएगा.

नए सऊदीकरण ड्राइव में कारों, मोटर बाइक और घर और कार्यालय फर्नीचर के साथ-साथ रेडीमेड और बच्चों के वस्त्र, पुरुषों के कपड़े और घरेलू बर्तनों के लिए दुकानें भी शामिल होंगे. जहाँ पर प्रवासी नहीं बल्कि सिर्फ सऊदी नागरिक ही काम कर सकेंगे.

SOURCE: SAUDI GAZETTE

अरब नामा को मिली जानकारी के मुताबिक, माजी ने कहा, “बड़ी और छोटी खुदरा फर्मों ने 24 प्रतिशत सऊदीकरण हासिल किया है, किराने के भंडार इस क्षेत्र के कुल सऊदी कर्मचारियों के 10 प्रतिशत को पंजीकृत हैं.” संबंधित एजेंसियां ​​2020 तक सऊदीकरण दर को 24 प्रतिशत से 50 प्रतिशत तक बढ़ाने के लिए काम कर रही हैं. जिसके तहत प्रवासियों को नौकरी से निकाला जाएगा और सऊदी नागरिकों को नौकरी पर रखा जाएगा.

माज़ी ने आगे कहा कि, खुदरा क्षेत्र के 70 प्रतिशत के लिए छोटी कंपनियों का खाता है. “हम उम्मीद करते हैं कि सरकारी फीस के कारण 2019 तक 30 फीसदी खुदरा दुकानों को बंद कर दिया जाएगा,” माजी ने हाल ही में खुदरा क्षेत्र को मजबूत करने और 12 नए खुदरा व्यापारों को सौंपने की अपनी योजना के अधिकार के प्रयासों पर रियाद में एक प्रस्तुति देने की बात कही है, ताकि ज्यादा से ज्यादा सऊदी नागरिकों को इसका फायदा हो सके.

उन्होंने कहा कि, “खुदरा क्षेत्र अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है क्योंकि यह ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट यानी GDP (सकल घरेलू उत्पाद) का 10 प्रतिशत योगदान देता है.” माजी ने कहा कि श्रम और सामाजिक विकास मंत्री अली अल-गफिस ने अगले हिजरी वर्ष (1440 एच) से शुरू होने वाले खुदरा क्षेत्र में 12 व्यापारों को सऊदीकृत करने का निर्देश जारी कर दिया है.