इन दिनों सऊदी और अमेरिका के बीच जुबानी जंग जारी है. अब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पत्रकार जमाल खाशोगी की गुमशुदगी के मामले में कहा कि वह सऊदी अरब से अलग नहीं होना चाहते हैं क्योंकि अमेरिका को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में सऊदी की जरूरत है.

साथ ही ट्रम्प ने यह कहा की सऊदी और अमेरिका के संबंध बेहद ख़ास है. अमेरिका सऊदी से अलग नहीं होना चाहता है तो ट्रंप ने कहा कि वह नहीं करना चाहता हैं. उन्हें 110 अरब डॉलर की खरीद करनी है. राष्ट्रपति ट्रम्प सऊदी को अमेरिकी हथियारों की बिक्री के वायदे का हवाला दे रहे है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हाल ही में फॉक्स बिजनेस को दिए इंटरव्यू में ट्रंप से पूछा गया कि उन्हें अगर मालूम पड़ता है कि रियाद जिम्मेदार है तो वह क्या कार्रवाई करेंगे तो राष्ट्रपति ने कहा कि जो बेहतर होगा वही करेंगे. ट्रम्प ने कहा हमें आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई में और ईरान तथा अन्य स्थानों पर जो हो रहा है उसके लिए सऊदी अरब की जरूरत है.