रियाद – सऊदी स्थानीय दैनिक अल-वतन ने सोमवार को सऊदी अरब मौद्रिक प्राधिकरण (एसएएमए) की एक सांख्यिकीय रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया की पिछले साल सार्वजनिक क्षेत्र में लगभग 60,000 प्रवासी काम करते है.

सऊदी गेजेट के मुताबिक, रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकारी कर्मचारियों की कुल संख्या 1.23 मिलियन थी. जिसमें प्रवासी और सऊदी दोनों शामिल थे लेकिन अब इन विभागों में प्रवासी की संख्या में कमी दर्ज की गयी है और सरकारी नौकरियां भी प्रवासियों से छीनकर सौदियों को दी जा रही है.

यह कहा गया है कि सरकारी नौकरियों वाले सऊदी महिलाओं की संख्या में 0.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जो 697,000 पुरुषों की तुलना में 476,000 तक पहुंच गई है, जिनकी संख्या 2016 की तुलना में 0.95 प्रतिशत कम है. जिससे साफ़ ज़ाहिर होता है की प्रवासियों की संख्या कम करके सऊदी की संख्या बधाई जा रही है.

समा ने कहा कि सऊदी ने 95.1 प्रतिशत सरकारी कर्मचारियों का गठन किया, जबकि पुरुष प्रवासी 4.9 प्रतिशत थे जो पिछले वर्ष की तुलना में 12.7 प्रतिशत की कमी के साथ 29,600 पहुंच गए. रिपोर्ट में कहा गया है कि गैर-सऊदी महिला श्रमिक 2016 में अपनी संख्या के मुकाबले 7.3 प्रतिशत की कमी के साथ 30,800 थे.

2016 में 474,153 सऊदी महिला सरकारी कर्मचारी थे, जिनकी संख्या 2017 में 476,347 तक पहुंच गई थी. सरकारी विभागों में अब ज्यादा नौकरी सऊदीयों को ही दी जा रही है जबकि प्रवासियों को निकाला जा रहा है.