संयुक्त अरब अमीरात में प्रवेश पाने के लिए अब एक नहीं, दो कोरोना परीक्षणों से होकर गुज़ारना पड़ेगा. अबू धाबी आपा’तकाल, सं’कट और आप’दा समिति ने स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ मिलकर ये घोषणा की है कि अरब अमीरात में दाखिल होने वाले हर शख्स को दो बार कोरोना परीक्षणों से गुज़रना होगा.

यह नया नियम गुरुवार (27 अगस्त) से लागू होगा. इस नियम के तहत पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव आने पर अगले 48 घंटों में ही अरब अमीरात में दाखिले की इजाज़त मिलेगी. डीपीआई लेज़र टेस्ट पर भी यही नियम लागू होगा. टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव मिलने पर ही देश में अगले 48 घंटों में एंट्री मिलेगी.

समिति ने ये भी कहा कि एक ही तरह का परीक्षण 6 दिन से पहले दोबारा नहीं हो सकता है. यानि अगर एक बार टेस्ट में कोई व्यक्ति पॉजिटिव मिला तो 6 दिन से पहले उसका दोबारा परीक्षण नहीं किया जायेगा. हालाँकि कोरोना वायरस वैक्सीन के ट्रायल के तीसरे चरण में भाग लेने वाले वालंटियर्स को इन नियमों से मुक्त रखा गया है.  कोरोना वैक्सीन के ट्रायल के तीसरे चरण का हिस्सा बने स्वयंसेवक इम’रजेंसी में आपा’तका’लीन वाहन लेन का उपयोग कर सकते हैं.

समिति ने बताया कि देश में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सभी प्रभावी उपाय किये जा रहे हैं. नियमों को ना मानने और किसी भी तरह से कोरोना वायरस को फैलने में सहयोग करने वालों के खि’ला’फ क’ड़ी कार’वाई की जाएगी. कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए बनाये गए नियमों का उ’ल्लं’घनों करने वालों पर स’ज़ा और जु’र्मा’ने, दोनों का प्राव’धान किया गया है.