ईरानी क्रांतिकारी गार्ड कोर (आईआरजीसी) के कमांडर मेजर जनरल मोहम्मद अली जाफरी ने कल कहा था कि यमन में प्रतिरोध बल ने हुदायदा के यमनी बंदरगाह में यूरोपीय और सऊदी बलों को हरा दिया है.

ईरानी अधिकारी की टिप्पणी कल के रूप में शहर के हवाई अड्डे पर नियंत्रण के लिए भयंकर लड़ाई हुई थी. आपको बता दें की यमन के अंतरराष्ट्रीय हुदेदाह पोर्ट पर हुती विद्रोहियों और अरब बलों के बीच भयंकर लड़ाई हो रही है. अरब बलों में संयुक्त अरब अमीरात की सेना भी शामिल है जो हुदेदाह बंदरगाह से हुतियों का सफाया करने में लगी है.

मिडिल ईस्ट मॉनिटर के मुताबिक, सऊदी नेतृत्व वाले अरब गठबंधन से सैन्य सूत्रों ने कहा कि उनकी सेना ने हवाई अड्डे पर पूर्ण नियंत्रण लिया है.

 

अरब नामा को मिली जानकारी के मुताबिक, संयुक्त अरब अमीरात की अगुवाई में गठबंधन बलों ने पिछले बुधवार को हुतियों के खिलाफ हुदेदाह में हमला किया था.

यमनी राष्ट्रपति अब्द रब्बो मंसूर हादी गुरुवार की रात को अदैन की यमनी अस्थायी राजधानी में वापस लौटे, ताकि वे हुतियों को हुदेदाह से वापिस भेज सकें.