ईद-उल अज़हा भारत में सोमवार के दिन 12 अगस्‍त को मनाई जाएगी। इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक 12वें महीने धू-अल-हिज्जा की 10 तारीख को बकरीद मनाई जाती है। यह तारीख रमजान के पवित्र महीने के खत्‍म होने के लगभग 70 दिनों के बाद आती है। बकरीद का त्‍योहार मुख्‍य रूप से कुर्बानी के पर्व के रूप में मनाया जाता है। इस दिन बकरे की कुर्बानी देने दी जाती है।

बकरीद के त्यौहार को लेकर राजधानी लखनऊ में बकरा मंडी सज चुकी हैं। इस समय सबसे अधिक चर्चा सुल्तान नाम के बकरे को लेकर है जिसकी हदिया (कीमत) 30 लाख सात सौ छियासी रुपये रखी गई है। बता दें कि सुल्तान के एक कान पर अल्लाह और दूसरे पर मोहम्मद लिखा हुआ है।
ये कुदरती लिखा है इसीलिए महंगा है। सुल्तान को लेकर लखनऊ की बकरा मंडी में पहुंचे आसिम ने बताया की पहले उसके बकरे की बोली 24 लाख रुपये लग चुकी है, लेकिन 30 लाख सात सौ छियासी रुपये से कम पर इसे नहीं बेचेंगे। आसिम बताते हैं कि सुल्तान के दूसरे पर मोहम्मद लिखा हुआ है। उसे ड्राईफ्रूट में बादाम और काजू पसंदीदा हैं। वहीं सुल्तान को एसी में रहना ही पसंद है।

उन्होंने कहा कि ढाई साल के सुल्तान का वजन करीब 65 किलो है। दुबगा बकरा मंडी कमेटी के मुताबिक जहां एक तरफ 10, 20 और 50 हजार के बकरे हैं। वहीं दूसरी तरफ 30 लाख से अभी अधिक तक के बकरे भी कुर्बानी के लिए सजे हुए हैं। आसिम ने बताया कि सुल्तान कभी किसी का झूठा नहीं खाता। उन्होंने बताया कि बिल्कुल परिवार की सदस्य की तरह से घर में रहता है।