सऊदी अधिकारियों ने सोशल मीडिया पर राउंड कर झूठी रिपोर्ट के रूप में खारिज कर दिया है कि आश्रितों के शुल्क को रद्द करने की योजना है.

श्रम और सामाजिक विकास मंत्रालय ने बुधवार को अपने आधिकारिक ट्विटर खाते पर कहा कि सोशल मीडिया में प्रसारित जानकारी सच से दूर है.

इसी तरह की अफवाहें भी पहले के अवसरों पर प्रवासियों का ध्यान आकर्षित करती थीं. जिसमें यह कहा गया था की सऊदी में काम करने वाले प्रवासियों का फैमिली टैक्स कम कर दिया है.

जुलाई 2017 में एक एक्सपैट वर्कर के प्रत्येक आश्रित पर शुल्क लागू हुआ. पहला साल, शुल्क प्रति माह प्रति निर्भर  100 सऊदी रियाल था. फिर हर साल यह 100 सऊदी रियाल द्वारा बढ़ाया जा रहा है जब तक शुल्क 2020 में प्रति माह एसआर 400 प्रति निर्भर तक पहुंचता है.