सभी देश कोरोना वायरस लॉक’डाउन की शुरुआत से बंद पड़ी सीमाएं खोलने की शुरुआत कर रहे हैं. इसी क्रम में सऊदी अरब भी अब अपनी स्थलीय सीमाएं खोलने जा रहा है. देश की अर्थव्यवस्था में सुधार करने के लिए देश में फिर से कामकाज की शुरुआत हो गयी है, जिसके चलते प्रवासियों के लिए सऊदी अरब अब अपनी ज़मीनी सीमाएं भी खोल रहा है.

हालाँकि सऊदी सरकार ने इससे पहले एक फैसला लिया है जो बाहर से सऊदी अरब में आने वालों के लिए जानना बेहद ज़रूरी है. सरकार के इस फैसले के तहत सऊदी अरब में आने वाले सभी लोगों को देश में दाखिल होने से पहले अपनी स्वास्थ संबंधी सभी जानकारियों को सरकार से साझा करना अनिवार्य है. इसके लिए देश में दाखिल होने वाले हर शख्स को ‘किंगडम अशर ऐप’ पर अपनी स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी देनी अनिवार्य होगी.

सरकार द्वारा जारी इस नए आदेश के मुताबिक सऊदी ने ख़ाजी, अल-राक़ी, अल-बाथा और किंग फ़हद ब्रिज़ को खोल बहार से आने वालों के लिए खोल दिया गया है. साथ ही गल्फ़ कोऑपरेशन काउंसिल देशों के ट्रकों की आवाजाही भी शुरू हो गई है. जनरल डायरेक्टोरेट ऑफ पासपोर्ट की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि हर ग़ैर-सऊदी नागरिक को सऊदी अरब में दाखिल होने से पहले ज़रूरी दस्तावेज दिखाने होंगे. परिवार समेत सऊदी अरब में आने वालों को ऑनलाइन अप्रूवल के लिए आवेदन करना होगा.