तुर्की राष्ट्रपति रजब तय्यब एर्दोगान ने मंगलवार को अपने अमेरिकी समकक्ष डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा ईरान के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंधों पर फटकार लगाई. एर्दोगान ने अमेरिका के इस कदम को दुनिया को असंतुलित करने के लिए एक कदम के रूप में वर्णित किया.

एर्दोगान ने अपने संबोधन के बाद अंकारा में न्यायमूर्ति और विकास पार्टी (एके पार्टी) संसदीय समूह संवाददाताओं से कहा ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंध गलत हैं, हमारे लिए वे दुनिया को असंतुलित करने के उद्देश्य से कदम उठा रहे हैं. वे अंतरराष्ट्रीय कानून या कूटनीति के खिलाफ भी हैं. हम साम्राज्यवादी दुनिया में नहीं रहना चाहते हैं.”

एर्दोगान ने कहा, “प्रतिबंधों पर हमारा रुख हमेशा स्पष्ट रहा है, खासतौर से तेल से संबंधित मुद्दों में हम हमेशा यह कहते हैं, हम इस तरह की मंजूरी का पालन नहीं करेंगे.” तुर्की आठ देशों में से एक था जिसे ईरान से तेल आयात के लिए अस्थायी छूट दी गई थी.

एर्दोगान ने कहा कि तुर्की ईरान से 10 अरब घन मीटर प्राकृतिक गैस आयात करता है. दिसंबर 2017 के लिए एनर्जी मार्केट रेगुलेटरी अथॉरिटीज (ईपीडीके) नेचुरल गैस मार्केट रिपोर्ट के आंकड़ों के मुताबिक, तुर्की के सभी प्राकृतिक गैस निर्यात का पांचवां हिस्सा ईरान से आता है.