देश में शांति और व्यवस्था बनाये रखने और आपरा’धिक गतिविधियों से मुक्त देश बनाने की दिशा में सऊदी अरब ने एक कदम और बढ़ा दिया है. सऊदी अरब ने 25 ऐसे क्रियाकलापों की सूची जारी की है, जो अब आपरा’धिक गतिविधियों के अंतर्गत आयेंगे. ओकाज अखबार ने बताया कि सऊदी अरब ने गिर’फ्तारी और हिरा’सत में रखने वाले 25 बड़े अप’राधों को सूचीबद्ध किया है.

किंगडम के अटॉर्नी जनरल शेख सऊद बिन अब्दुल्ला अल मुजेब द्वारा जारी किए गए एक फैसले के अनुसार, इन अप’राधों में राष्ट्रीय सु’रक्षा को ख’तरा पैदा करने सम्बन्धी गतिविधियाँ, सार्वजनिक धन के ग’बन, माता-पिता की पि’टाई, वाहन चो’री करना और वे’श्या’लय स्थापित करने जैसे अप’राध शामिल हैं. इसके अलावा न’शी’ले पदार्थों या श’राब की तैयारी करना, डिस्टिलिंग, त’स्क’री, न’शी’ले पौधों को उगाना, खरीदना, बेचना, भेंट करना भी अप’राधों की सूची में शामिल किये गए हैं.

साथ ही ड्यूटी पर किसी व्यक्ति से अभ’द्रता, पि’टाई करना भी अब अप’राध माना जायेगा. इन कामों को करने पर गिर’फ्तारी और कानू’नी कार्य’वाही की जाएगी. यह फैसला आप’राधिक प्रक्रिया संहिता के अनुच्छेद 112 के अनुसार किया गया है. समाज की सु’रक्षा और शांति को ख’तरा पैदा करने वाले काम सबसे गंभीर अप’राध माने गए हैं.

सऊदी परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 


न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here
Loading...